Khaki Connection

जाऩिए शहीदों को समर्पित राष्ट्रीय पुलिस स्मारक की क्या है खासियत

जाऩिए शहीदों को समर्पित राष्ट्रीय पुलिस स्मारक की क्या है खासियत


पुलिस स्मारक दिवस के मौके पर आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता के बाद से पुलिस जवानों द्वारा दिए गए सर्वोच्च बलिदान के सम्मान में राष्ट्रीय पुलिस स्मारक का उद्घाटन किया. पीएम मोदी पुलिस स्मारक दिवस के मौके पर शहीद पुलिस जवानों को श्रद्धांजलि दी और परेड में शामिल हुए. इस मौके पर पीएम मोदी ने राष्ट्रीय  पुलिस स्मारक देश को समर्पित कर दिया. यह मेमोरियल देश को पुलिस और पैरामिलिटरी फोर्स के योगदान की याद दिलाएगा.आइये हम आपको बताते हैं कि इस इस्मारक में ऐसा क्या कूछ है जो इसे खास बनाता है 

गौऱव गाथा को बयान करेगा  स्मारक 


चाणक्यपुरी में बना ये एकल पाषाण-स्तंभ देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पुलिस बल और केंद्रीय पुलिस संगठनों का प्रतिनिधित्व करता है । आपको बता दें कि 30 फीट ऊंचा नौ फीट चौड़े आकार के ग्रेनाइट पत्थर से इसका निर्माण किया गया है । इसका वजन 238 टन है. इसका वजन और रंग सर्वोच्च बलिदान की गंभीरता का प्रतीक है. सभी 34,844 पुलिस जवानों के नाम शूरता की दीवार पर ग्रेनाइट पर उत्कीर्ण हैं। गौर करने वाली बात है कि तेलंगाना से इस शिलाखंड को पांच सितंबर को दिल्ली लाया गया था । दो विशालकाय क्रेन की सहायता से इसे मंच पर स्थापित किया गया।  

भूमिगत संग्रहालय का भी निर्माण 


पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, चाणक्यपुरी स्थित परिसर के बीच शहीदों की याद में विशालकाय ग्रेनाइट पत्थर लगाया गया है । यहां भूमिगत संग्रहालय का निर्माण भी किया गया है । इस संग्रहालय में अर्धसैनिक और राज्य पुलिस बलों के इतिहास की जानकारी सहित उनसे जुड़ी कलाकृतियां, वर्दी व अन्य सामग्री प्रदर्शित की जाएंगी । इस स्मारक का निर्माण शांतिपथ के उत्तरी छोर पर चाणक्यपुरी में 6.12 एकड़ भूमि पर किया गया है 

रिसर्च में भी मिलेगी मदद


प्रसिद्ध मूर्तिकार अद्वैत गडनायक के नेतृत्व में 30 कलाकारों ने पत्थर को तराशकर कलाकृति का रूप दिया है। वहीं आपको बता दें कि वर्तमान में अर्धसैनिक बलों और राज्य पुलिस के अपने छोटे-छोटे संग्रहालय हैं, लेकिन राष्ट्रीय पुलिस स्मारक के साथ बना संग्रहालय देश का अकेला ऐसा संग्रहालय है इससे पुलिस से जुड़े विषयों पर रिसर्च करने वालों को काफी मदद मिलेगी। जिससे पुलिस के बार में जानकारियां जुटाना औऱ भी आसान हो सकेगा ।

लेखक

Mahima shukla

Police Media News

Leave a comment