Smart Policing

हैलो, हैलो... आपकी समस्या निपटी की नहीं, मैं एडीजी बोल रहा हूं

हैलो, हैलो... आपकी समस्या निपटी की नहीं, मैं एडीजी बोल रहा हूं

हैलो.. मैं एडीजी जोन एसएन साबत बोल रहा हूं.... ठीक पढ़ रहे हैं आप, सीएम योगी के सख्त रवैये के बाद से पुलिस महकमा ऐक्शन मोड में है। खबर उन्नाव के बांगरमऊ कोतवाली से है, जहां जिला भ्रमण के दौरान एडीजी मौके पर पहुंचे। जहां उन्होंने एक पीड़िता को फोन कर रहा कि आपने बांगरमऊ कोतवाली की महिला हेल्प डेस्क में शिकायत की थी। उसका निस्तारण हुआ कि नहीं। शिकायतकर्ता की ओर से संतोषजनक जवाब मिलने पर एडीजी ने एसपी से कोतवाल व डेस्क प्रभारी को इनाम दिए जाने की बात कही।

बांगरमऊ कोतवाली पहुंचे एडीजी

दरअसल, जिला भ्रमण के दौरान एडीजी एसएन साबत मंगलवार दोपहर बांगरमऊ कोतवाली पहुंचे। कोतवाली में पहले से मौजूद एसपी आनंद कुलकर्णी के साथ उन्होंने कोतवाली का निरीक्षण किया। इसके बाद आगंतुक कक्ष व महिला हेल्प डेस्क का फीता काटकर उद्घाटन किया। उन्होंने डेस्क पर बैठी महिला पुलिस कर्मी से शिकायत रजिस्टर मंगवाया और उसमें दर्ज फरियादी कलवारी महम्मदाबाद निवासी सोनी रावत को फोन मिला दिया। एडीजी के तेवर देख मौजूद पुलिस कर्मियों में हड़कंप मच गया। फोन उठने पर एडीजी ने महिला को अपना परिचय दिया और समस्या निस्तारण के बारे में जानकारी ली।

जमीन पर कब्जे की हुई थी शिकायत

सोनी ने बताया कि उसने जमीन पर कब्जे की शिकायत की थी। पुलिस व राजस्व टीम ने मौके पर पहुंचकर उसकी जमीन की नाप करा कुछ कब्जा हटवा दिया था। निर्माण कार्य की जगह को कब्जा मुक्त कराने के लिए एसडीएम ने उसे बुलाया है। उसने पुलिस की कार्रवाई पर संतुष्टि जाहिर की। इस पर एडीजी ने एसपी से कोतवाल बांगरमऊ आशुतोष त्रिपाठी व हेल्प डेस्क पर तैनात महिला पुलिस कर्मी को इनाम दिए जाने की बात कही।

मुख्य संवाददाता

HARSH PANDEY

Police Media News

Leave a comment