Crime

जयमाल के दौरान प्रेमी ने पहुंचकर दुल्हन को मारी गोली फिर खुद को भी गोली मारकर कर ली आत्महत्या

जयमाल के दौरान प्रेमी ने पहुंचकर दुल्हन को मारी गोली फिर खुद को भी गोली मारकर कर ली आत्महत्या

उत्तर प्रदेश के रायबरेली से सनसनीखेज मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक यहां एक शादी समारोह के दौरान एक प्रेमी ने दुल्हन को गोली मार दी और खुद भी गोली मारकर आत्महत्या कर ली। वहीं इस घटना के बाद शादी समारोह में हड़कंप मच गया। बताया जा रहा है कि दुल्हन का गांव के एक युवक से काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था लेकिन जब गांव में दुल्हन की बारात आई तो प्रेमी बौखला सा गया और फिर जय माल के समय पहुंचकर सनकी प्रेमी ने पहले दुल्हन को गोली मारी और फिर खुद भी गोली मारकर आत्महत्या कर ली । वहीं सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने दुल्हन और उसके प्रेमी के शव को कब्जे में ले लिया है और जांच पड़ताल में जुट गई है। 

जानिए पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक रायबरेली के बछरावां थाना क्षेत्र में शेखपुर समोधा के गजियापुर गांव की रहने वाली आशा नाम की युवती का गांव के ही बृजेंद्र नाम के युवक से काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था लेकिन परिवार वालों को उनका रिश्ता मंजूर न था और फिर उन्होने आशा की शादी उन्नाव जिले के साजन उर्फ अनिल से तय कर दी थी। मंगलवार की शाम युवती की बारात आई और धूमधाम से कार्यक्रम चल रहा था ।हर कोई बेहद खुश नजर आ रहा था। लेकिन देर रात जय माल कार्यक्रम के समय प्रेमी बृजेंद्र भी आ पहुंचा उसने युवती आशा के जयमाल कार्यक्रम में शामिल होकर फोटो भी खिंचवाई लेकिन अचानक इसके बाद बृजेंद्र अपने घर गया और अपनी चाचा की बंदूक घर से ले लाया। जय माल का कार्यक्रम चल ही रहा था तभी अचानक उसने 2 गोलियां अपनी प्रेमिका आशा को मार दी 

प्रेमी ने भी खुद को गोली मारकर की आत्महत्या

इधर  दुल्हन को गोली लगते ही शादी समारोह में अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। वहीं देखते ही देखते प्रेमी बृजेंद्र ने भी खुद को गोली मार ली। बृजेंद्र की तो मौके पर ही मौत हो गई लेकिन आशा को गंभीर रूप से घायल होने के बाद परिजन बछरावां सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए लेकिन उसने भी रास्ते में ही दम तोड़ दिया। वहीं प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो आशा और बृजेंद्र का प्रेम प्रसंग काफी समय से चल रहा था लेकिन आशा के परिजनों ने आशा की शादी कुशहरी नवाबगंज उन्नाव जिले के रहने वाले साजन उर्फ अनिल से तय कर दी थी यही नहीं ग्रामीणों की मानें तो प्रेमी बृजेंद्र आशा की शादी के सभी कार्यक्रमों में शामिल भी रहा और मदद भी की लेकिन अचानक उससे देखा नहीं गया और घटना को अंजाम दे दिया ।

पुलिस जांच में जुटी

वहीं घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस और थाने की पुलिस के साथ साथ जिले के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए और परिजनों से पूछताछ की । उसके बाद दोनों मृतकों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। वहीं पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह का कहना है कि बृजेंद्र दुल्हन आशा से एक तरफा प्रेम करता था । पहले प्रेमी बृजेंद्र ने दुल्हन आशा को जय माल के दौरान गोली मारी और उसके बाद कार्यक्रम स्थल पर उसने अपने आप को भी गोली मार ली। बृजेंद्र की तो मौके पर मौत हो गई लेकिन प्रेमिका आशा को गंभीर हालत में हॉस्पिटल पहुंचाया गया जहां उसको भी डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया पुलिस फिलहाल सभी पहलुओं पर जांच पड़ताल करने में जुट गई है 

संवाददाता

Lalit Negi

Police Media News

Leave a comment