Crime

वाहन चेकिंग के दौरान दारोगा का थप्पड बना जानलेवा, युवक की मौत

वाहन चेकिंग के दौरान दारोगा का थप्पड बना जानलेवा, युवक की मौत

महानगर के सिविल लाइंस इलाके में ट्रैफिक दरोगा का थप्पड जानलेवा बन गया। बताया जा रहा है कि  कठपुला पर चढ़ते समय वाहन चेकिंग के दौरान ट्रैफिक दरोगा की गाड़ी के कागजों को लेकर एक युवक से कहासुनी हो गई। और फिर ट्रैफिक दरोगा का पारा गर्म हो गया और उसने युवक को थप्पड जड़ दिया। युवक थप्पड लगते ही बेहोश होकर गिर गया हैरानी की बात तो ये है पुलिसकर्मी इस कदर अमानवीय हो गए कि बेहोश युवक को अस्पताल भी नहीं ले गए। और बाद में युवक की मौत हो गई

OTHER VIDEO :

जानिए पूरा मामला

बताया जा रहा है कि महानगर के सिविल लाइंस इलाके में एक कठपुला पर चढ़ते समय वाहन चेकिंग के दौरान  ट्रैफिक दरोगा की युवक से कहासुनी हो गई। जानकारी के मुताबिक दोपहर करीब 12 बजे 28 वर्षीय अफजाल अपनी बाइक पर अपनी और बेटी की दवा लेने जिला अस्पताल जा रहा था। वह जैसे ही कठपुला पर चढ़ने लगा तो वहां चेकिंग कर रहे यातायात पुलिसकर्मियों ने उसे रोक लिया। उसके पास गाड़ी के कागज नहीं थे। उसने अपनी बीमारी की बात बताई। और इस बात पर बहस हुई लेकिन दरोगा ने उसकी बात बिना सुने गाड़ी सीज कर दी। गाड़ी सीज करने पर जब युवक ने ऐतराज जताया तो गुस्से से आगबबूला हुए दरोगा ने उसे थप्पड़ जड़ दिया। थप्पड लगते ही युवक बेसुध होकर वहीं गिर गया। 

OTHER VIDEO :

युवक को नहीं पहुंचाया अस्पताल

हैरान करने वाली बात तो ये है कि युवक के बेसुध पड़े होने के बाद भी  पुलिसकर्मियों ने उसे देखने या अस्पताल पहुंचाने तक की जहमत नहीं उठाई। दो प्रत्यक्षदर्शी अतर सिंह निवासी समस्तपुर हरदुआगंज और नवी अहमद निवासी जमालपुर उसे जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने फौरी तौर पर बताया कि युवक की मौत दहशत में दिल का दौरा पड़ने से हुई  वहीं। 

OTHER VIDEO :

परिजन मांग रहे मुआवजा

देर शाम पोस्टमार्टम पर मौजूद परिजन अब मुआवजे की मांग कर रहे थे। इंस्पेक्टर बन्नादेवी जावेद खान के अनुसार फिलहाल शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। बाकी मुआवजे आदि को लेकर अधिकारियों में विमर्श चल रहा है। वहीं एसपी सिटी अतुल श्रीवास्तव ने इस पूरे मामले पर कहा कि परिजन जो कहेंगे, उसके अनुसार नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी

OTHER VIDEO :

 
अस्थमा और क्षय रोग से पीड़ित था मृतक

मूल रूप से बरौली जवां का 28 वर्षीय अफजाल पुत्र शौकत तीन भाइयों में तीसरे नंबर का था। वह अपनी ससुराल नगला पटवारी में मकान बनाकर बड़े भाई लियाकत संग पत्नी सोनम और दो बेटी, एक बेटे को लेकर रह रहा था। परिजनों के मुताबिक काफी समय से वह खुद अस्थमा और क्षय रोग से पीड़ित था और उसका इलाज भी चल रहा था। इन दिनों वह एक फैक्ट्री में काम कर रहा था। कुछ समय से बेटी की भी तबीयत खराब हो गई थी।

लेखक

Sandhya mishra

Police Media News

Leave a comment