Super Cop

लोक गायिका मालिनी अवस्थी का गीत सुनकर भावुक हो गए सीएम योगी... आंखो से छलक पड़े आंसू

लोक गायिका मालिनी अवस्थी का गीत सुनकर भावुक हो गए सीएम योगी... आंखो से छलक पड़े आंसू

राजधानी लखनऊ (Lucknow) में शुक्रवार देर शाम गायिका मालिनी अवस्थी (Singer Malini Awasthi) का मुक्ति गाथा कार्यक्रम था। इसमें सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) भी मौजूद थे। इसी बीच, मालिनी अवस्थी ने उन गीतों को गाना शुरू किया, जिनको स्वतंत्रता आंदोलन (freedom movement) के दौरान गाने पर रोक थी। एक गीत स्वाधीनता संग्राम (song freedom struggle) और असहयोग आंदोलन (Non-Cooperation Movement) को लेकर था। गीत सुनते ही सीएम भावुक हो गए और उनकी आंखें नम हो गई। कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी (CM Yogi) ने कहा, ''हम सब का सौभाग्य है कि आजादी के अमृत महोत्सव (Amrit Mahotsav) के साल में हम आनंद महसूस कर रहे हैं। यह चौरी-चौरा आंदोलन (Chauri Chaura Movement) का शताब्दी साल भी है।" उन्होंने आगे कहा, ''मालिनी अवस्थी ने 11 साल पहले यह संस्था बनाई। सोन चिरैया हमारे लोक परंपरा का शब्द है। यह मुक्ति गाथा (salvation story) उसका प्रतिनिधित्व करता हुआ यहां पर दिखाई दिया।''

देश-विदेशों में बनाई पहचान

दरअसल, उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले में पैदा हुईं मालिनी बचपन से ही गुनगनाने लगी थीं, यही बचपन की मीठी तानें जब भातखण्डे संगीत संस्थान, लखनऊ से प्रशिक्षित होकर निकलीं तो देश की आवाज बन गईं। बता दें कि उन्होंने कई फिल्मों में भी गाने गाए हैं, जिसमें एजेंट विनोद, लिपस्टिक अंडर माय बुर्का, दम लगा के हईशा आदि शामिल हैं। वह बनारस घराने की पद्म विभूषण विदुषी गिरिजा देवी, पौराणिक हिंदुस्तान शास्त्रीय गायिका (Legendary Hindustani Classical Singer) की शिष्या हैं। 

5 साल की उम्र से शुरू किया था गाना

बता दें पद्मश्री से सम्मानित स्वर साधिका और मशहूर लोक गायिका मालिनी अवस्थी ने भोजपुरी, अवधी और बुंदेली भाषाओं में रचे गीतों को अपनी मीठी आवाज दी है। उत्तर प्रदेश के कई अंचलों में सावन में 'कजरी' गायी जाती है, मालिनी जी ने इन आंचलिक गीतों की परंपरा को नई ऊंचाईयां दी। ठुमरी पर भी खूब स्वर साधा। वह बताती हैं कि 5 साल की उम्र से ही गाना शुरू कर दिया था। 

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

जानकारी के मुताबिक सीएम योगी के भावुक होने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है। वहीं कई यूजर्स ने इस वीडियो को शेयर कर लिखा है कि मन उसी का व्यथित होता है जिसके हृदय में भारत के वीरों के प्रति सच्ची संवेदना हो । कार्यक्रम में संघ के दत्तात्रेय होसबोले और कृष्णगोपाल भी मौजूद थे।

संवाददाता

Akansha

Police Media News

Leave a comment