Others

... और चुस्त दुरुस्त होगी पुलिस व्यवस्था, सीएम ने दिए आदेश

... और चुस्त दुरुस्त होगी पुलिस व्यवस्था, सीएम ने दिए आदेश


सीएम योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार शाम राजधानी में कानून व्यवस्था और विकास कार्यों की प्रगति को लेकर समीक्षा बैठक की । करीब 4 घंटे तक चली इस बैठक में पुलिस तंत्र को सुविधा संपन्न बनाने को लेकर कई अहम दिशा-निर्देश दिए । उन्होंने पुलिस वेलफेयर और आधुनिक संसाधनों को दुरुस्त करने के लिए गृह विभाग की 3500 करोड़ रुपये योजनाओं को मंजूरी प्रदान की।  इस बैठक में स्टेट इंडस्ट्रियल सिक्यॉरिटी फोर्स के गठन को लेकर भी हरी झंडी मिलने की खबर है।  इसके अलावा बैठक में शामली में पीएसी की नई बटालियन के गठन, पूर्वांचल में पीएसी की महिला बटालियन बनाने और फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी खोलने समेत कई प्रस्तावों को मंजूरी मिलने की चर्चा है। भर्ती प्रक्रिया को सुचारू बनाने को लेकर भी इस बैठक में अहम निर्णय लिए गए । बैठक में मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव गृह और डीजीपी ओपी सिंह के अलावा एडीजी कानून व्यवस्था आनंद कुमार और पुलिस विभाग के तमाम आला अधिकारी शामिल थे.  

3500 करोड़ की योजनाएं मंजूर

सीएम ने पुलिस वेलफेयर व आधुनिक संसाधनों के लिए गृह विभाग की 3500 करोड़ रुपये की योजनाओं को मंजूरी दे दी। इसमें अकेले 230 करोड़ रुपये शहीद पथ के पास बन रही पुलिस सिग्नेचर बिल्डिंग के लिए मंजूर किए गए हैं। लोकसभा चुनाव से पहले पुलिस मुख्यालय सिग्नेचर बिल्डिंग में शिफ्ट हो जाएगा।। बैठक के दौरान डीजीपी ओपी सिंह ने मेट्रो समेत सरकारी व अन्य प्रमुख निजी प्रतिष्ठानों की सुरक्षा के लिए सीआईएसएफ की तर्ज पर स्टेट इंडस्ट्रियल सिक्यॉरिटी फोर्स के गठन का प्रस्ताव रखा । जानकारी के मुताबिक इसे भी सीएम ने मंजूरी दे दी है। दरअसल अकेले मेट्रो की सुरक्षा को लेकर सीआईएसएफ की सेवाएं लेने पर हर माह करीब चार करोड़ रुपये का खर्च आ रहा है। जो काफी ज्यादा है। इसलिए डीजीपी ने दूसरे राज्यों की तर्ज पर एसआईएसएफ के गठन का प्रस्ताव रखा । एसआईएसएफ के लिए अलग से भर्ती की जायेगी या महकमे के ही कर्मियों को इसमें भेजा जायेगा। 

फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी और नई पीएसी बटालियन 

सीएम ने बैठक के दौरान शामली में पीएसी की नई बटालियन स्थापित करने पर भी विचार किया । फरेंसिक यूनिवर्सिटी बनाने और नए 36 थाने खोलने को भी सीएम ने मंजूरी दे दी है।एसडीआरएफ में जवानों की संख्या बढ़ाने के लिए कहा है।  पूर्वांचल में पीएसी की महिला बटालियन को भी मंजूरी मिली है। 

व्यापारी सुरक्षा प्रकोष्ठ का होगा गठन 

बैठक के दौरान हर जिले में व्यापारी सुरक्षा प्रकोष्ठ के गठन पर भी विचार हुआ । इस प्रकोष्ठ का प्रभारी अपर पुलिस अधीक्षक को बनाये जाने का पर भी विचार हुआ  । प्रकोष्ठ की कोशिश होगी कि व्यापारियों में सुरक्षा के प्रति विश्वास बढ़े। पुलिस के प्रति उनका नजरिया बदले ताकि वे पुलिसकर्मियों को ही अपना वास्तविक शुभचिन्तक मानें । अपराधियों के खिलाफ आक्रामक नीति के पक्षधर अधिकारियों ने भी इस गठन पर अपनी सहमति जताई ।अधिकारियों का मानना था की पुलिस की वर्किंग इस तरह हो जाये जिससे  प्रदेश के व्यपारियों मे सुरक्षा की भावना बढ़े।

सुस्त भर्ती से सीएम नाराज़ 

भर्तियों में आ रही रुकावट, परीक्षा निरस्त होने और पुलिसकर्मियों के धीमे प्रमोशन को लेकर सीएम ने अफसरों से खासी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने निरस्त हुई सिपाही भर्ती परीक्षा जल्द करवाने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही सीएम ने नोएडा में साइबर थाने के लिए जमीन और बजट नोएडा प्राधिकरण को मुहैया करवाने के निर्देश दिए हैं । सीएम ने साफ शब्दों मे का की पुलिस व्यवस्था को बेहतर करने के लिये चल रहे कार्यों मे किसी भी तरह कि लेट लतीफी बर्दाश नही की जायेगी। 

मुख्य संवाददाता

Chandan Rai

Police Media News

Leave a comment