Khaki Connection

गायब AK-47 को तलाशने के लिए पुलिस संदिग्धों का कराएगी ब्रेन मैपिंग और लाइ डिटेक्टर टेस्ट

गायब AK-47 को तलाशने के लिए पुलिस संदिग्धों का कराएगी ब्रेन मैपिंग और लाइ डिटेक्टर टेस्ट

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले के इटवा थाने से गायब हुई लोडेड एके-47 का पुलिस 10 दिन बाद भी कोई सुराग नहीं लगा पाई है। जानकारी के मुताबिक अब पुलिस हर हाल में गायब एके-47 का पता लगाने में जुट गई है और इसके चलते पुलिस संदिग्धों के ब्रेन मैपिंग और लाइ डिटेक्टर टेस्ट की भी तैयारी कर रही है। वहीं असलहे का पता लगाने के लिए एंटी माइंस टीम और एसएसबी की मदद भी ली जा रही है। 

OTHER VIDEO :

जानिए पूरा मामला

सिद्धार्थनगर जिले के इटवा थाने से 10 दिन पहले गायब हुई एके-47 को को ढूंढने में पुलिस को नाकामी ही मिल रही है। ऐसे में गायब असलहे की बरामदगी जल्द से जल्द हो सके इसके लिए पुलिस प्रशासन ने कमर कस ली है। जानकारी के मुताबिक पुलिस इस मामले में संदिग्धों के ब्रेन मैपिंग और लाइ डिटेक्टर टेस्ट की तैयारी में है।

OTHER VIDEO :

एंटी माइंस टीम थाने की एक-एक इंच जमीन को जांच रही

वहीं पुलिस अधीक्षक ने  लोडेड एके-47 को तलाशने में एसएसबी की मदद मांगी है। वही दूसरी तरफ लखनऊ से एंटी माइंस टीम बुलवाकर पूरे थाने को छन्नी से छनवाने का काम कराया जा रहा है। इस दौरान एंटी माइंस टीम थाने की एक- एक इंच जमीन को जांचती दिखी।  वहीं एसएसबी 43 वीं वाहिनी की टीम अपनी डॉग टीम के साथ थाने का एक-एक कोना चैक कर रही है ।

OTHER VIDEO :

पुलिस के लिए गायब एके-47 को ढूंढना बना बड़ी चुनौती

वहीं यहा पर सबसे बडा सवाल ये खड़ा हो रहा है की दस दिन बीत जाने के बाद भी स्थानीय पुलिस को कोई लीड क्यो नही मिल पा रही है। पुलिस क्या अंधेरे मे तीर चला रही है। सवाल ये भी है कि क्या दस दिन से थाने की चेकिंग ही पुलिस पूरी नही कर पाई है। आखिर क्या कारण है कि पुलिस की सुई बार बार थाना परिसर मे आकर ठहर जा रही है । ऐसे में कहना गलत नहीं होगा कि अब एके-47 को ढूंढना पुलिस के बड़ी चुनौती बनता जा रहा है।  

लेखक

Madhavi Tanwar

Police Media News

Leave a comment