Crime

दरिंदगी की सारी हदें पार, गांव वालों ने थाने के बाहर जमकर की फांसी लगाने की नारेबाजी

दरिंदगी की सारी हदें पार,  गांव वालों ने थाने के बाहर जमकर की फांसी लगाने की नारेबाजी

उत्तर प्रदेश में अपराध व अपराध के खात्मे के लिए शासन और प्रशासन द्वारा मिलकर लगातार कई अभियान चलाए जा रहे हैं। लेकिन अभी भी पूरी तरह से कामयाबी नहीं मिल सकी है। गोरखपुर के मगराजगंज जिले से एक ऐसी खबर सामने आई है जिससे की वहां के कुछ युवको की गंदी करतूतों की वजह से पुलिस महकमें के साथ ही पूरा गांव शर्मसार हुआ है। इसके साथ ही गांव वालों ने थाने के बाहर नारेबाजी की है कि उन युवकों को फांसी होनी चाहिए।

खरपतवार लेने गई थी बालिका

दरअसल, पुरंदरपुर क्षेत्र के रहने वाले कुछ युवकों ने शराब के नशे में एक बालिका के साथ दरिंदगी की सारी हदें पार कर दी। बालिका के साथ हैवानियत करने के बाद दरिंदों ने उसकी बेरहमी से हत्या कर दी। मामला यह है कि जिले के पुरंदरपुर क्षेत्र के एक गांव की बालिका का शव जंगल में स्थित पवह नाले के पास झाड़ी में 19 जनवरी को अर्धनग्न हाल में मिला था। पूछताछ में पता चला कि 12 साल की बालिका एक दिन पहले (18 जनवरी) दोपहर तीन बजे पकड़ी रेंज के जंगल में साइकिल से खरपतवार लेने गई थी।

अर्धनग्न हालत में मिला शव

हालांकि, जब शाम के छह बजे तक वह वापस नहीं लौटी तो मां के साथ गांव के अन्य लोगों ने उसकी तलाश में जंगल की तरफ गए लेकिन कुछ पता नही चला। इस दौरान मामले की सूचना पुरंदरपुर पुलिस को दी गई। मंगलवार की सुबह मां के साथ गांव के लोग जंगल में तलाश करने गए तो पवह नाले के पास झाड़ी में बालिका का अर्धनग्न शव मिला था। मृत बालिका की मां की शिकायत पर पुलिस द्वारा केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की गई।

गांव वालों में दिखा आक्रोश

बता दें कि शुक्रवार को छह आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस ने वारदात का पर्दाफाश कर दिया। आरोपियों ने जब पुलिस को पूरा घटनाक्रम बताया तो हकीकत सुनकर सभी दंग रह गए। युवकों के इस कृत्य से पूरे गांव में आरोपितों के प्रति गुस्से का रुख अपनाया है। यहां तक की थाने को घेर युवक को फांसी पर चढ़ाने की नारेबाजी कर रहे हैं।

आरोपितों की छानबीन में लगाई स्पेशल टीम

इसपर एसपी प्रदीप गुप्ता ने कहा कि मामले की जानकारी जुटाने के लिए स्वाट टीम और कई थानों की पुलिस लगाई गई थी। आरोपियों का पता लगाने के लिए गांव में जाल बिछाया गया था। लोकल इनपुट के आधार पर जांच आगे बढ़ी तो पता लगा की घटना का अंजाम देने वाले युवक आसपास के ही हैं। युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू हुई तो सच सामने आ गया। मामले में शामिल आरोपित वीरू, गोविंद, सोनू, पंकज, पवन, रामनयन को पुरंदरपुर थाना क्षेत्र के मंगरहिया तिराहे से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

अकेली बालिका देख नियत में खोट

पुलिस द्वारा पुछताछ में आरोपियों ने कबूला कि सभी जंगल में बैठकर शराब पी रहे थे। इसी बीच जंगल में अकेली बालिका दिखी तो नियत में खोट आ गई। शोर ना हो इसलिए उस बालिका के मुह में कपड़ा ठूसकर वारदात को अंजाम दिया। दुष्कर्म के बाद पकड़े न जाएं इसलिए गला दबाकर हत्या कर दी।

संवाददाता

TRIBHUVAN

Police Media News

Leave a comment