Encounter

25 हजार का इनामी बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार

25 हजार का इनामी बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार

वाराणसी के फुलवरिया रेलवे क्रासिंग के पास क्राइम ब्रांच और कैंट पुलिस ने मुठभेड़ में 25 हजार के इनामी को धर दबोचा है। जानकारी के मुताबिक पुलिस के हत्थे चढ़ा अपराधी शेख सलीम फाटक निवासी शाहनवाज उर्फ भंटू है और वो दालमंडी के व्यापारी सैयद शारिक हसन की हत्या के प्रयास के मामले में वांछित चल रहा था।

जानिए पूरा मामला

वाराणसी में बुधवार की देर शाम फुलवरिया रेलवे क्रासिंग के पास हुई मुठभेड़ में क्राइम ब्रांच और कैंट पुलिस के हत्थे चढ़ा बदमाश शेख सलीम फाटक निवासी शाहनवाज उर्फ भंटू , दालमंडी के व्यापारी सैयद शारिक हसन की हत्या के प्रयास के मामले में वांछित चल रहा था और 25 हजार का इनामी था। पुलिस ने शातिर भंटू के पास से .32 बोर की देसी पिस्टल, पांच कारतूस और बाइक बरामद की है। वहीं एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि सर्विलांस और मुखबिर की मदद से भंटू के फुलवरिया क्षेत्र में मौजूद होने की सूचना मिली। इस पर क्राइम ब्रांच प्रभारी विक्रम सिंह अपनी टीम के साथ फुलवरिया रेलवे क्रासिंग के समीप पहुंचे। बाइक सवार भंटू पुलिस टीम को देखते ही फायरिंग कर भागना चाहा लेकिन गिरफ्तार कर लिया गया। आगे की कार्रवाई के लिए भंटू को कैंट पुलिस को सुपुर्द किया गया है।

आरोपी ने कपड़ा व्यापारी को गोली मारी थी

पुलिस भंटू से देर रात तक उसके दूसरे अपराधी साथियों के बारे में कैंट थाने में पूछताछ करती रही। पुलिस के हत्थे चढ़े भंटू पर चौक और लक्सा थाने में लूट, रंगदारी सहित कई दूसरे आरोपों में सात से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं। उस पर दो दिसंबर की रात चेतगंज थाना अंतर्गत शेख सलीम फाटक क्षेत्र में कपड़ा व्यापारी शारिक को गोली मार कर हत्या करने के प्रयास का भी आरोप है। पुलिस द्वारा की गई तफ्तीश में सामने आया कि भंटू ने ही शारिक को गोली मारी थी। और फिर शारिक के बड़े भाई गुड्डन ने भंटू के खिलाफ चेतगंज थाने में हत्या के प्रयास के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया। जिसके बाद चेतगंज पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच भी भंटू की तलाश में जुट गई।

गोली किसी लिए चलाई थी गलती से कपड़ा व्यापारी को लगी

क्राइम ब्रांच की पूछताछ में भंटू ने बताया कि वो दालमंडी के व्यापारियों से हफ्ता और महीना वसूलता है। दालमंडी क्षेत्र में वर्चस्व स्थापित करने के लिए उसके और इनामी बदमाश अमन के बीच काफी समय से तनातनी चल रही है। वहीं भंटू ने बताया कि दो दिसंबर की रात शेख सलीम फाटक क्षेत्र में मौजूद था, इसी दौरान अमन अपने साथियों के साथ आता दिखा। अमन ने उसे देख पिस्टल निकाली, इससे पहले ही उसने फायरिंग कर दी। और गलती से गोली मौके से गुजर रहे शारिक को जा लगी। शारिक से उसकी कोई रंजिश नहीं थी।शारिक को गोली लगते ही वो और अमन मौके से भाग निकले। वहीं उसने बताया कि मुकदमा दर्ज होने की सूचना मिलने पर वो अपने करीबियों के यहां छुप कर रह था।

संवाददाता

Lalit Negi

Police Media News

Leave a comment