Smart Policing

आइजी जयनारायण सिंह ने जिले में की कानून-व्यवस्था की समीक्षा

आइजी जयनारायण सिंह ने जिले में की कानून-व्यवस्था की समीक्षा

पुलिस महकमे के काम की बारीकी से जांच करने के लिए  मंगलवार को पहली बार आइजी रेंज जयनारायण सिंह ने देवरिया जिले का दौरा किया। इस दौरान उन्होने पुलिस अधीक्षक कार्यालय का निरीक्षण किया। आइजी ने निरीक्षण के दौरान कमिया पाए जाने पर मताहतों को जल्द से जल्द उन्हे सुधारन की चेतावनी दी तो वहीं थानेदारों के साथ कानून-व्यवस्था की समीक्षा करते हुए मातहतों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। साथ ही आगामी पर्वों के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था के समुचित बंदोबस्त की जानकारी भी ली। 

पहली बार आईजी रेंज ने किया जिले का दौरा

बताया जा रहा है कि दोपहर एक बजे के करीब आइजी जयनारायण सिंह ने पुलिस अधीक्षक एन.कोलांची के साथ कार्यालय का निरीक्षण शुरू किया। आईजी जयनारायण सिंह ने इस दौरान प्रधान लिपिक कार्यालयआंकिक शाखा,अभिलेखागारवाचक कार्यालयरिट सेलडीसीआरबीशिकायत प्रकोष्ठ के साथ ही महिला प्रकोष्ठ का निरीक्षण किया। उन्होंने संबंधित अधिकारियोंकर्मचारियों से अभिलेखों के रख-रखाव और कार्यों के बारे में भी जानकारी ली।  आइजी ने इस निरीक्षण के दौरान कई जगहों पर कमी पाई गईलेकिन पहला दौरा होने के चलते उन्होंने चेतावनी देकर लोगों को छोड़ दिया और कमियों को जल्द से जल्द ठीक करने के निर्देश दिए। 

आगामी पर्वों को लेकर दिए दिशा-निर्देश

करीब एक घंटे तक आइजी कार्यालय में रहे। और फिर शाम साढ़े तीन बजे उन्होने थानेदारों के साथ क्राइम मीटिंग की।  इस मीटिंग में आईजी ने आगामी त्योहारों दीपावलीछठ और शब-ए-बारात के मद्देनजर मातहतों को जरूरी निर्देश दिए। उन्होने पुलिस वालों को अमृतसर की घटना से सबक लेते हुए रेल लाइन के आपस होने वाले आयोजनों पर नजर रखने के साथ ही सतर्कता से ड्यूटी करने के निर्देश भी दिए उऩ्होने कहा कि दीपवली में पटाखा भी काफी ज्यादा फोड़े जाते हैं ऐसे में रेल लाइन से उन्हें दूर रखा जाएगा। पटाखों के लिए लाइसेंस लेना अनिवार्य होगा। इतना ही नहीं पटाखों का भंडारा ऐसी जगहों पर होगा जहां फायर सर्विस की गाड़ी आसानी से पहुंच सके। विस्फोट रखने वालों को नियमों का पालन करना पड़ेगा। आगामी त्योहार को लेकर जिले का भ्रमण किया जा रहा है। 

इनामी बदमाशों की गिरफ्तारी पर जोर दिया

आईजी ने कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए सभी पुलिसवालों को इनामी बदमाशों की गिरफ्तारी करने पर जोर दिया। आइजीआरएस के प्रार्थना पत्रों के त्वरित निस्तारण के लिए कड़े निर्देश दिए गए। इस दौरान अपर पुलिस अधीक्षक (उत्तरी) गणेश प्रसाद शाहाअपर पुलिस अधीक्षक (दक्षिणी) सुरेंद्र बहादुर,सीओ सिटी वरुण मिश्रासीओ बरहज सीतारामसलेमपुर शीतांशु कुमारपीआरओ नवीन चौधरीप्रतिसार निरीक्षक संदीप राय मौजूद रहे।

बारीकी से जांच करने आए थे आईजी

पुलिस महकमे के काम की बारीकी से जांच करने के लिए जिले में आए आइजी जयनारायण सिंह ने कहा कि पुलिस में ईमानदारी हैं तो दिखनी भी चाहिए। कोई सुलखान सिंह और श्रीराम अरुण ऐसे ही नहीं बन जाता। चौबीस घंटे हम पुलिस के बीच रहते हैं,लोगों की उम्मीद भी पुलिस से सबसे ज्यादा है। मूल रूप से आजमगढ़ जिले के रहने वाले आइजी जयनरायण सिंह की ज्यादातर पोस्टिंग पश्चिम यूपी में रही लेकिन रेंज में पहली बार उनकी तैनाती हुई ।

लेखक

Anshul vajpayee

Police Media News

Leave a comment